दीपावली की प्रासंगिकताऔर आधुनिक स्वरूप

 भारत को पर्वों और त्योहारों का देश कहकर पुकारा जाए तो अतिश्योक्ति नहीं होगी. यहां विभिन्न प्रांतों में अनेक प्रकार

Read more

सत्ता का विकेंद्रीकरण और उत्तराखण्ड का हाल

गाँव भी विकास की मुख्य धारा से ज़ुड़े, इसी मकसद से सत्ता के विकेंद्रीकरण के लिए पंचायती राज की कल्पना

Read more